Yaad kiya karte hai

Jakhmon k katein prr CHL krr bhi tujhe yad Kiya krte hai

Tu javab de ya n de phr bhi ofline Teri seen tk hum intjar kra krte h
Mana ab tum watsap se nhi phone cal se bat Kiya krte ho
Tujhe taqleef n ho isiliye hum online hi tujhe Dekh liya krte h
Jakhmon k katein pr CHL krr bhi tujhe yad Kiya krte h
Teri akhiri msg ko Dekh Kar apna stuts that Kiya krte h
Tu Syd Dekh Kar javab de isiliye hum ofline rehkr bhi online hua krte h
Jakhmon k katein pr CHL krr bhi tujhe yad Kiya krte h


Leave a Reply
You May Also Like

भूल गये मितवा

भूल गये मीतवा, तुम्हें याद नही कल,जो बिताये थे , साथ मैं हमने पल,छोड़ गये यू, अंधेरी रात मै हमको,बची रोशनी भी छीन ले गये तुम,भूल गये पल वो, याद…
View Post

Kavya by Subhash Singh

Table of Contents Hide जनतादौलत का करिश्माअकड़रोशनीऔर पढ़े जनता नेता और जनता की ये कैसी आंखमिचोली है की नेता कितने घाग जनता कितनी भोली है दोनों ही इस बात को…
View Post

।। मानव जीवन का लक्ष्य।।

जीवन प्राप्ति का उद्देश्य है क्या, किस पथ पे इसे ले जाना है, यह होता एक प्रबल मंथन, किस प्रकार इसे पार लगाना है ।। 1 ।। किस हेतु मिला…
View Post

सायली होली

सायली होली काव्य बासुदेव अग्रवाल ‘नमन’ द्वारा लिखित है। आप सभी को होली की खूब शुभकामनायें । होली पावन त्योहार जीवन में लाया रंगों की बौछार। बासुदेव अग्रवाल ‘नमन’तिनसुकिया होली…
View Post

आल्हा छंद – अग्रदूत अग्रवाल

आल्हा छंद अग्रदूत अग्रवाल अग्रोहा की नींव रखे थे, अग्रसेन नृपराज महान।धन वैभव से पूर्ण नगर ये, माता लक्ष्मी का वरदान।।आपस के भाईचारे पे, अग्रोहा की थी बुनियाद।एक रुपैया एक…
View Post

शिखरिणी छंद – भारत वंदन

शिखरिणी छंद – भारत वंदन बड़ा ही प्यारा है, जगत भर में भारत मुझे।सदा शोभा गाऊँ, पर हृदय की प्यास न बुझे।।तुम्हारे गीतों को, मधुर सुर में गा मन भरूँ।नवा…
View Post